The Other News

Tuesday
Sep 19th 2017
Text size
  • Increase font size
  • Default font size
  • Decrease font size

Dharm

E-mail Print PDF

 "ज़मी पर इन्सान है आसमां पे भगवान है, न कोई हिन्दू है न कोई मुसलमान है"

 

ज़मी पर इन्सान है आसमां पे भगवान है
न कोई हिन्दू है न कोई मुसलमान है

लहू एक है जिस्म एक है
है ये माटी का पुतला
जिसमे छुपी एक जान है

कोई सजदा करे कोई फूल चढ़ाये
कोई वानी सुने कोई सर को झुकाये
पूजा तो एक समान है

चाँद सितारे सूरज की किरणें
क़ुदरत ने बख़्शा है क्या क्या हमें
दिल उस पे कु़बाॅन है

एक चमन एैसा भी है दुनियाँ में
हर रंग के फूल खिलते हैं जहाँ
वह चमन ही अपना हिन्दुस्तान है   

 

---Hanif Khan is an IT consultant who also runs Tawajjo.com, an organisation promoting art and culture.

 

Add comment

Comments should be within the boundaries of decency. Express your thoughts without spreading hatred.


Security code
Refresh

Hot Topic

 

Made In India at London Fashion Week

  FAD International Academy unveils House of MEA promoting Indian designers at Fashion ...

 

Mobile phones to tackle malnutrition

 

Free BPO training for the youth

...

 

Cloud computing to create over 2 million jobs in India

A new research by IDC predicts 15 per cent of total jobs created by cloud across the worl...

 

ग्रामीण बच्चों ने जीते कम्प्यूटर और साईकिल

सोनीपत के एक गाँव में प्रतिभावान व...

Our Partners

Banner

Advertisements