The Other News

Thursday
Dec 02nd 2021
Text size
  • Increase font size
  • Default font size
  • Decrease font size
Home Special Coverage News कुष्ट रोगियों ने बदली सोच

कुष्ट रोगियों ने बदली सोच

E-mail Print PDF

हमारे समाज ने जिन लोगों को हीन भावना से हमेशा देखा आज वही लोग हमारे घर की शोभा बढ़ाँनॆ मे लगे हुये हैं।

 

धनबाद के बरमसिया इलाके मे डेमियन समाजिक कल्याण केंद्र के द्वारा एक पुनर्वासन एवं प्रसिक्षण केंद्र चलाया जाता है| यहाँ समाज के उन उपेक्षित कुष्ट रोगियों को पनाह मिलती है जिन्हें हमरे समाज से तिरशकृत कर निकाल दिया जाता है।  इलाज के साथ यहाँ उन्हें स्वालंबी बनाने का भी पूरा प्रयास किया जाता है| आज ये रोगी लोगो के घरो की शोभा बढ़ाँनॆ के साथ साथ दूसरे मरीजो के लिए जरुरत के समान भी तैयार कर रहे है|

कल तक जो हाथ घिण्णा का कारन थे वही आज इतने सुन्दर और टिकाऊ कपड़ो का उत्पादन कर रहे है जिसे पूरा राज्य पसंद कर रहा है| आज इनके कर्मो की वजह से इनके इस संसथान में कई उद्धोगपति इनके यहाँ आ कर ना सिर्फ इनसे बाते करते है बल्कि इनके कामो की प्रसंशा भी करते नहीं थकते है|

इस केंद्र में हस्त करघा से कई चीजे तैयार की जाती हैं जिनमे बेडशीट, गमछा, लुंगी, डस्टर एवं अस्पतालों में काम आने वाले सभी प्रकार के कपड़े शामिल हैं जो धनबाद सहित दुसरे राज्यों और सूबे के विभिन्न अस्पतालों में भी भेजे जा रहे है|

और फिर भी हम मे से एैसे लोग हैं जो हाथ पैर सही सलामत होने पे भी ज़िन्दगी से सन्तुष्ट नही हैं।

 

---Faraz Khan is a freelance journalist.

 

Hot Topic

 

Made In India at London Fashion Week

  FAD International Academy unveils House of MEA promoting Indian designers at Fashion ...

 

Mobile phones to tackle malnutrition

 

Free BPO training for the youth

...

 

Cloud computing to create over 2 million jobs in India

A new research by IDC predicts 15 per cent of total jobs created by cloud across the worl...

 

ग्रामीण बच्चों ने जीते कम्प्यूटर और साईकिल

सोनीपत के एक गाँव में प्रतिभावान व...

Our Partners

Banner

Advertisements