आमिर खान के कार्यक्रम से गुडगाँव प्रशाशन हुआ प्रेरित

Friday, 11 May 2012 10:51 administrator
Print

लिंग परिक्षण करने वाले चिकित्सको के प्रति गुडगांव प्रशासन का कड़ा रुख, शुरू की हेल्प लाइन।

गर्भ में लिंग परिक्षण व् भ्रूण हत्या जैसे मामलो से निपटने के लिए गुडगाँव प्रशाशन ने कमर कस ली है और इसकी प्रेरणा उसे आमिर खान के कार्यक्रम सत्यमेव जयते से मिली है। गुडगांव प्रशासन ने एक नई मुहीम की शुरुयात की है। इसके तहत एक नई हेल्प लाइन शुरू की गयी है जिससे अब कोई भी व्यक्ति 102  नम्बर पर फोन करके लिंग परिक्षण करने वाले चिकित्सक या अल्ट्रासाउंड केंद्र के बारे में सुचना दे सकता है। अब तक इस नम्बर का प्रयोग केवल एम्बुलेंस सेवा के प्रयोग के लिए इस्तेमाल किया जाता था।

भ्रूण की लिंग जाँच करने वाले चिकित्सक के बारे में जानकारी देने वाले को 21 हजार रूपए का इनाम देने की घोषणा भी की गई है। गुडगांव जिला प्रशासन ने इसके लिए जिला टास्क फ़ोर्स की बैठक की जिसमे तमाम अधिकारी मोजूद थे। इस मौके पर प्रसव पूर्ण निदान तकनीक अधिनियम ( पी एन डी टी. एक्ट ) को प्रभावी ढंग से लागू करने पर भी फैसला लिया गया।

प्रवीन गर्ग (मुख्य चिकित्षा अधिकारी, गुडगाँव अस्पताल) ने बताया, "अब प्रत्येक अल्ट्रासाउंड सेंटर पर प्रशासन की कड़ी नजर रहेगी और अल्ट्रासाउंड सेन्टरों पर रेडियोलाजिस्ट को अल्ट्रासाउंड करवाने आने वाली हर महिला का रिकोर्ड रखना होगा।"

गुडगांव प्रशासन का कहना है की कि  रेडियोलाजिस्ट अधिकतम दो अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर ही अल्ट्रासाउंड कर सकता है। गुडगांव में अब तक 135 अल्ट्रासाउंड सेंटर है जिनमे चार सरकारी व् 131 प्राइवेट है।  इसके अलावा भ्रूण हत्या को रोकने के लिए गुडगाँव जिला प्रशाशन लोगों को जागरूक भी करेगा जिसके लिए आमिर खान के कार्यक्रम सत्यमेव जयते की सी डी जिले के गाँव गाँव में दिखाई जाएगी और पांचो और सरपंचों के कार्यक्रम में भी इस कार्यक्रम का प्रदर्शन किया जायेगा।

 

---Faraz Khan is a freelance journalist.